Skip to main content

Posts

15 अगस्त पर विशेष * ऐसे थे चन्द्रशेषर आजाद*

helpsir.blogspot.com
आदरणीय सम्पादक जी                                  सादर प्रणाम          चन्द्र शेषर आजाद के बारे में एक बार की घटना जो मैनें राष्ट्र धर्म पत्रिका में पढ़ी थी।प्रस्तुत करने का प्रयास कर रहा हूँ।         अंग्रेजी राज्य था।देश गुलामी की जंजीरों में जकड़ा हुआ था।अंग्रेजों का जुल्म-ओ-सितम दिनों दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा था।मानवता त्राहि-त्राहि कर रही थी।भारत माँ के सपूत उनकी बेंड़ियाँ काटने को बेचैन थे।क्रांतिकारियों को पुलिस के दमन चक्र का शिकार होना पड़ रहा था।             क्रांतिकारियों की धर-पकड़ के लिए अंग्रेजी जासूस सूंघते फिर रहे थे।फिर भी माँ भारती के लड़ैते लाल अंग्रेजी सरकार को नुकसान पहुंचाने से बाज कहाँ आ रहे थे।पकड़े जाने पर भी बड़े गर्व से फांसी का फंदा चूमने की ललक लिए शहीदों की माला में एक और मनका जड़नें को आतुर रहते थे।            चन्द्र शेषर आजाद केवल एक बार सोलह साल की उम्र में प्रयागराज में ही गिरफ्तार हुए थे।बड़े ही सटीक और निर्भीक प्रश्नोत्तर किए थे।16 कोड़ों की सजा दी गई थी।उसके बाद आजाद आजादथे, आजाद ही रहे।आज आजाद भारतीयों के लिए क्रांति नायक,असल योद्धा, अद्…
Recent posts

नेतृत्व राख : ड़ूबती साख

helpsir.blogspot.comआदरणीय सम्पादक जी
                             सादर प्रणाम        प्रकृति का एक सार्व सत्य नियम है कि हर चीज का उत्थान के बाद पतन निश्चित है।कांग्रेस संगठन भी इस समय अपने पतन पर है।दूसरे दलों में पलायन बढ़ा है।नेताओं में भगदड़ की होड़ मची है।एक से बढ़कर एक कद्दावर नेता भगदड़ में लगे हुए हैं।
        पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी के समय तक यदि कांग्रेस का स्वर्णिम युग कहा जाय तो अतिशयोक्ति नहीं होगी।अब कांग्रेस में सक्षम नेतृत्व का सर्वथा अभाव है।यहीं कारण है कि कांग्रेस धरातल से रसातल की ओर अग्रसर है।कांग्रेस में समय की नब्ज पकड़ने वाला नेता श्रीमती इंदिरा गांधी जी ही थी।         प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने कांग्रेस मुक्त भारत का नारा 2014 में दिया था।2019 के लोकसभा चुनावों तक यह नारा अक्षरशः सत्य नजर आ रहा है।वर्तमान जम्मू कश्मीर में370 हटाने के समय भी योग्यता और दूरदर्शिता के अभाव में एक बार फिर कांग्रेस चूकती नजर आई।अधीर रंजन चौधरी की अधीरता की निंदा माननीया सोनिया गांधी ने भी की।      उपरोक्त कथन / विवेचन का प्रयोजन है कि बिना योग्य नेतृत्व के कांग्…

दबंग फैसला

आदरणीय सम्पादक जी
                           सादर प्रणाम         डा०श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी का कहा सही मायनों में कल दि०05-08-2019 को सच साबित करके मोदी सरकार ने शहादत को सही अर्थों में नमन किया है।मुखर्जी जी नें" एक राष्ट्र, एक संविधान, एक निशान, एक प्रधान"की धारणा प्रस्तुत की थी।जिसे सही मायनों में कल मोदी सरकार ने सच कर दिखाया।
           "जहाँ हुए बलिदान मुखर्जी।वह कश्मीर हमारा है।"सही अर्थों में कल ही कश्मीर हमारा हुआ है।इससे पहले यह भाजपा का एक नारा भर ही था।अब इस नारे को सही अर्थों में मूर्त रूप दिया जा सका है।      इससे पहले की पूर्ववर्ती सरकारों में दृढ़ इच्छा शक्ति, साहस का सर्वथा अभाव रहा था।जिसके कारण ही यह कोढ़ 70 सालों तक हमें ढोना पड़ा था।मोदी सरकार तथा 56" सीने वाले मोदी में बड़े,कड़े और साहसिक फैसले लेने की दम है।
        चाहे नोटबंदी हो या सर्जिकल स्ट्राइक हो चाहे तीन तलाक बिल हो या अब यह नया 370 खत्म करने वाला फैसला हो।मोदी ने आगे बढ़कर चुनौतियों का डट कर सामना किया है।मोदी और मोदी सरकार अवश्य ही बधाई की पात्र है।प्रमोद कुमार दीक्षित, सेहगों, रा…

वृक्षारोपण

helpsir.blogspot.com

आदरणीय सम्पादक जी
                              सादर प्रणाम        यह पावन भूमि राम,कृष्ण की धरती रही है।यहां एक से बढ़कर एक महान मूर्धन्य विद्वानों, वीर,शिरोमणि, तथा अन्य विलक्षण प्रतिभा से सम्पन्न साधु,संतों ने जन्म लिया है।भगवान नें प्राकृतिक सम्पदा देने में कोई कन्जूसी नहीं बरती है।प्राकृतिक संसाधनों को दोनों हाथों से भर-भरकर लुटाया है।
       गोलकुंडा की खान से कोहिनूर नामक हीरा निकला था।जिसे खरीदने के लिए पूरी दुनिया की दौलत कम पड़ गई थी।जब हीरे के तीन टुकड़े किए गए तो दुनिया के दौलतमंद उस हीरे को खरीद सकी थी।      वन सम्पदा में इमारती लकड़ी तथा कीमती फर्नीचर तैयार होने वाली लकड़ी भी भगवान ने खूब दी थी।हमने निजी स्वार्थ बश प्रकृति प्रदत्त सम्पदा का खूब दोहन किया।
        अब स्थिति यह आ गई है कि सांस लेने भर की हवा भी नहीं बची है।दिल्ली की वायु गुणवत्ता मारक स्तर पर पहुंच चुकी है।यहीं कारण है कि शहर की दवा और देहात की हवा बराबर होती है।
        हमने नादानी वश जिन्दा रहने के लिए परम आवश्यक आक्सीजन देने वाले वृक्षों को काट डाला।और जलवायु असंतुलन को न्यौता दे बैठे।और …

हार की जीत ( CWC 2019 ) ?

helpsir.blogspot.com

आदरणीय सम्पादक जी
                              सादर प्रणाम          4 साल बाद आने वाला क्रिकेट महाकुंभ क्रिकेट विश्व कप 2019 जिसका फाइनल मैच क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले विश्व के सबसे प्रतिष्ठित मैदान Lord'S के मैदान लंदन में मेजबान इंग्लैंड बनाम न्यूजीलैंड के बीच 14 जुलाई 2019 को खेला गया।Lord'S के मैदान पर क्रिकेट खेलना हर क्रिकेट खिलाड़ी के लिए सपना होता है।
         फाइनल खेलने वाली दोनों टीमों ने इससे पहले कभी क्रिकेट विश्व कप नहीं जीता था।क्रिकेट के जनक कहे जाने वाले इंग्लैंड ने 1975 ई० जबसे क्रिकेट विश्व कप शुरू हुआ ,कभी भी विश्व कप नहीं जीता था।उसका सपना क्रिकेट विश्व कप जीतने का था।मुकाबले में कभी भी इंग्लैंड जीतती नजर नहीं आई।
         न्यूजीलैंड नें टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी।50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 241 रन न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने बनाए।जबाब में मेजबान इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने 241 रन पर इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने आल आउट होकर 241 रन बनाकर मैच टाई करवाने में सफलता अर्जित की।
      अब फैसला सुपर ओवर में होना निश्चित हुआ।सुपर ओवर में …

सफेद हाथी बने ग्रामीण डाकघर

helpsir.blogspot.comआदरणीय सम्पादक जी
                           सादर प्रणाम       डाकघर कभी का जिम्मेदार और भरोसेमंद महकमा माना जाता था।इस विभाग में लापरवाही का लेशमात्र स्थान नहीं था।बड़े से बड़े डाकू भी पोस्टमैन या मेल प्यून को लूटने की हिम्मत नहीं कर पाता था।यह विभाग सबसे पुराना और विश्वसनीय माना जाता था।          कहने को सभी ग्रामीण डाकघर भी C.B.S.बना दिए गए।परन्तु B.S.N.L.के सर्वर कभी रहते ही नहीं है।और सर्वर की अनुप्लब्धता के चलते बाबुओं की चाँदी है।केवल सीट पर बैठकर सोने का काम शेष बचा है।सर्वर न होने का बहाना बनाकर काम न करना ही एकमात्र काम बचा है।           वी.वी.आई.पी.कहे जाने वाले जनपद रायबरेली के उपडाकघर सेहगों, रायबरेली में डाकघर की सेवाओं का यह आलम है कि 1000 प्रति माह जमा होनेवाली आर.डी.पूरे पाँच साल जमा करने के उपरांत 74000 हजार भुगतान होना था।लेकिन सर्वर न उपलब्ध होने के चलते मई 5,2019 को परिपक्व हुए खाते का भुगतान 5 जुलाई 2019 तक नहीं हो सका है।डाकघर जाने पर उप डाकपाल महोदय जी हमेशा से ही तैयार जबाब सर्वर न होना बताकर टाल देते हैं।बकौल उप डाकपाल 5 बार रजि०डाक से डाक …

क्रिकेट विश्व कप 2019 मे अजेय भारत का विजयरथ रुका।

helpsir.blogspot.comआदरणीय सम्पादक जी
                             सादर प्रणाम       क्रिकेट विश्व कप 2019 में भारत का अजेय अभियान अब तक लगातार जारी था।कल दि 30-06-2019 को इंग्लैंड के खिलाफ भारत का अजेय अभियान थम सा गया।इस मैच में भारत नें 5 विकेट के नुकसान पर केवल 306 रन बनाकर 31 रन से मैच गंवा बैठी।इस मैच को भारत ने कभी भी जीतने के लिए खेला ही नहीं।यह मैच इंग्लैंड के लिए करो या मरो का मैच था।यदि इंग्लैंड टीम यह मुकाबला हार जाती तो सेमीफाइनल में पहुंचने की सारी उम्मीदें समाप्त हो जाती।मगर मेजबान इंग्लैंड नें हर विभाग में भारत को मात दी।
       बंग्लादेश और पाकिस्तान के समर्थकों की भारत के जिताने की दुआ भी काम नहीं आई।पाकिस्तान और बंग्लादेश सबेरे वाली गाड़ी से चले जाएंगे की हालत मे आ गये।
       यदि भारत यह मैच जीतता तो इन दोनों देशों की उम्मीदें भी कायम रहती।हतास पाकिस्तान के बासित नें पहले ही कहा था कि पाकिस्तान को बाहर करने के इरादे से भारत हार भी सकता है।और ऐसा ही हुआ।       भारत के गेंदबाज मोहम्मद शमी और बुमराह का प्रदर्शन उम्मीद से ज्यादा उम्दा रहा है।रोहित शर्मा ने भी काबिलियत औ…