Skip to main content

Posts

पाकिस्तान का फिर एक कायराना हमला

आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम।हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को अपनी राष्ट्रीय राजनीति में आवश्यक हिस्सा के रूप में अपनाते हैं।आतंकवाद का पोषण,संरक्षण और प्रशिक्षण करने का इतिहास रहा है।कल दि० 14-02-2019 को पाकिस्तान ने फिर जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सी.आर.पी.एफ की बस पर एक भीषण कायराना हमला किया है।हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान पोषित जैश-ए.मोहम्मद ने ली है।इस हमले में 43 जवान शहीद हुए हैं।मसूद अजहर के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने भारत को पूर्व में भी काफी नुकसान पहुंचाया है।विश्व के लगभग सभी देशों ने इस कायराना हमले की निन्दा की है।शहीदों की शहादत बरबाद नहीं जाएगी।इस कायराना पूर्ण हमले का उचित बदला लिया जाएगा।भारतीय जवान चुप नहीं बैठेंगे अपने बहादुर साथियों की शहादत बेकार नहीं जानें देंगे।बदला अवश्य लिया जाएगा।इस कायरता पूर्ण हमले की जितनी भी निन्दा की जाय कम है।अब समय आ गया है भारत सरकार को चाहिए कि पी.ओ.के.से पाकिस्तान के समर्थक सैनिकों और आतंकी शिविरों को नष्ट करके गुलाम कश्मीर को आजाद कराकर भारत में मिलाकर पाकिस्तान का अवैध कब्जा समाप्त करने की कृपा करें।प्रमोद कुमार द…
Recent posts

आटोमेटिक राइफल्स फैक्ट्री का भारत मे न होना

gsirg.com आदरणीय सम्पादकजी                                   सादर प्रणाम             आज हमारा देश भारत मिसाइल टेक्नोलॉजी, तथा अंतरिक्ष विज्ञान में तथा जलपोत क्षेत्र में एक से बढ़कर एक ऊँचे सोपानों पर विराजमान हो रहा है।भारतीय सेनाओं जल, थल,वायु तीनों सेनाओं की रक्षा जरूरतों तथा उपकरणों की के हिसाब से आयुध कारखाने और उन्नत टेक्नोलॉजी तथा,डिजाइन के अभाव के कारण ही हम अपनी तीनों सेनाओं के रक्षा उपकरण और साजो-सामान की खरीद विदेशों से करने के लिए मजबूर हैं।तीनों सेनाओं की जरूरत के लिए हल्के हेलीकॉप्टर भी हम भारत में जरूरत के हिसाब से निर्माण नहीं कर पा रहे हैं।एविएशन क्षेत्र में H.A.L.के अलावा कोई भी बड़ा नाम नहीं है।आजादी के 70 साल बीत जाने के बाद भी तीनों सेनाओं के जरूरत में काम आने वाली राईफल बनाने का कोई भी कारखाना न होने के कारण हम अमेरिका से 72000 के लगभग राईफलें खरीदने को मजबूर हैं।सन् 1990 में ही पहचान कर ली गई थी कि आतंकवादियों की तुलना में सेना की राइफलें अपेक्षाकृत कम उन्नत तकनीक की हैं।फिर भी आज तक की सरकारों ने कोई खरीद न की थी।अब जब मोदी सरकार ने यह समझदारी भरी उत्तम खरीद की है…

चुनाव पूर्व सतर्कता

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी                                 सादर प्रणाम
        भारत के दो चिर-परिचित शत्रु हैं।नं.1 चीन,नं.2 पाकिस्तान।यह दोनों शत्रु ऐन-केन-प्रकारेण भारत की बर्बादी के सपने देखते ही रहते हैं।पाकिस्तान ने पी.ओ.के.पर अवैध कब्जा सन् 1948 ई०से जमाए हुए हैं और जम्मू कश्मीर हड़पने के ख्वाब देखा करता है।चीन भी हजारों हेक्टेयर भूमि पर अवैध कब्जा करने के उपरांत अरुणांचल प्रदेश पर अवैध रूप से दावा प्रस्तुत करता ही रहता है।आए दिन डोकलाम राग अलापता ही रहता है।पाकिस्तान अनगिनत बार सीज फायर का उलंघन कर चुका है और यह मुहिम लगातार जारी है।दोनों देश चीन तथा पाकिस्तान भारत के विरुद्ध साजिश दर साजिश रचता ही रहता है।"मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है?वहीं होता है जो मंजूर-ए-खुदा होता है। भारत में लोकसभा चुनाव सिर पर हैं।ऐसे में विपक्षी पार्टियों के धन और शराब वितरण पर कड़ाई से नजर रखे जाने की खास जरूरत है।अभी यू.पी.का जहरीली शराब काण्ड अभी ठंडा भी नहीं हुआ है।यू.पी.और उत्तराखंड में लगभग सौ से अधिक लोगों नें अपनी जानें गंवाई हैं।पाकिस्तान अक्सर लोकसभा चुनाव बिगाड़ने के उद्देश्य से स…

कलंकित दोस्ती

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी                                सादर प्रणाम
अपने भारत देश में दोस्ती के सिर कटा देने वाले दोस्तों की मिशालें भरी पड़ी हैं।शोले फिल्म की जय-बीरू की जोड़ी ऐसी दोस्ती की मिशाल पेश की गई है।आल्हा खण्ड में लाखन कुँवर कनौजी राय और ऊदल की दोस्ती का प्रमाण प्रमुखता से लिखा गया है।लाखन और ऊदल नें गंगा में दोस्ती निभाने की शपथ ली थी और निभाई भी।कर्ण और दुर्योधन की दोस्ती कलयुग में कृष्ण और अर्जुन की दोस्ती त्रेता युग में राम और सुग्रीव की मित्रता सतयुग में अग्नि देव और इन्द्र देव की मित्रता के प्रमाण मिलते हैं।मित्रता खून के रिश्ते से बड़ी होती है क्योंकि यह दिल के रिश्ते से जुड़ी होती है।
आजकल मित्रता के पैमाने और मापदण्ड ही बदल गए हैं।अब लोग मित्रता लालच और स्वार्थ के कारण करते हैं।अब "यार ने ही लूट लिया घर यार का।"की तर्ज पर दोस्ती करते हैं।दोस्त की पत्नी पर ही बुरी नजर रखते हैं।दोस्ती में कत्ल के समाचार कामुक दोस्ती कलंकित दोस्ती बन कर रह जाती है।ऐसी गलत दोस्ती की घटनाएं ही कत्ल अथवा जरायम की दुनिया की जन्मदात्री होती है।अब आजकल की दोस्ती की दास्तानें समाचार…

कलंकित दोस्ती

आदरणीय सम्पादक जी                               सादर प्रणाम।
         अपने भारत देश में दोस्ती के लिए सिर कटा देने वाले दोस्तों की मिशालें भरी पड़ी हैं।शोले फिल्म की जय-बीरू की जोड़ी ऐसी ही दोस्ती की मिशाल पेश करती है।आल्हा खण्ड में लाखन कुँवर कनौजी राय और ऊदल की दोस्ती का प्रमाण प्रमुखता से लिखा गया है।लाखन और ऊदल नें गंगा में दोस्ती निभाने की शपथ ली थी और निभाई भी।कर्ण और दुर्योधन की दोस्ती कलयुग में कृष्ण और अर्जुन की दोस्ती त्रेता युग में राम और सुग्रीव की मित्रता सतयुग में अग्नि देव और इन्द्र देव की मित्रता के प्रमाण मिलते हैं।मित्रता खून के रिश्ते से बड़ी होती है क्योंकि यह दिल के रिश्ते से जुड़ी होती है।आजकल मित्रता के पैमाने और मापदण्ड ही बदल गए हैं।अब लोग मित्रता लालच और स्वार्थ के कारण करते हैं।अब "यार ने ही लूट लिया घर यार का।"की तर्ज पर दोस्ती करते हैं।दोस्त की पत्नी पर ही बुरी नजर रखते हैं।दोस्ती में कत्ल के समाचार कामुक दोस्ती कलंकित दोस्ती बन कर रह जाती है।ऐसी गलत दोस्ती की घटनाएं ही कत्ल अथवा जरायम की दुनिया की जन्मदात्री होती है।अब आजकल की दोस्ती की दास्तानें समा…

अबूधाबी ने हिन्दी का सम्मान बढाया

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी
सादर प्रणाम। संयुक्त अरब अमीरात में लगभग 33 लाख भारतीय कामगार रहते हैं।अरब देशों की भारत से मित्रता सदियों पुरानी है।आज दि०10-02-2019 को अबूधाबी में सरकार ने कानूनी भाषा के तौर पर अरबी,अंग्रेजी के बाद हिन्दी को मान्यता दे दी है।जिससे 33 लाख कामगारों की कानूनी समस्या काफी हद तक हल हो जाएगी।हिन्दी को सम्मान देने के लिए संयुक्त अरब अमीरात सरकार को बधाई, शुभकामनाएं।मोदी सरकार ने दोस्ताना सम्बन्धों को यू.आई.ए से प्रगाढ़ और मधुर बनाकर नई ऊँचाइयों को छुआ है।हिन्दी की ख्याति विदेशों में लगातार बढ़ रही है।हिन्दी के प्रचार प्रसार की दिशा में व्यापक सुधारों की आवश्यकता है। अपने देश भारत में ही हिन्दी को उचित सम्मान नहीं प्राप्त अपितु विदेशों में भी उचित सम्मान प्राप्त हो रहा है।इसके लिए हम उन देशों के आभारी हैं,जिन देशों ने हिन्दी को सम्मान दिया है।यह हमारे लिए गर्व की बात है कि मुस्लिम देशों ने भी हमारी दोस्ती समारा गौरव हिन्दी को उचित सम्मान देकर अरबी भाषा, अंग्रेजी भाषा के बाद अब तीसरी हिन्दी भाषा को अपने देश की विधिक भाषा के रूप में मान्यता दी है।

ऋतुराज बसंत और दिव्य, भव्य कुम्भ प्रयागराज

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम। आज दि० 10-02-2019 को ऋतुराज बसंत है।इस दिन विद्या और ज्ञान की देवी माँ सरस्वती की जयन्ती होती है।माता सरस्वती जी को पीला और सफेद रंग बहुत ज्यादा पसंद है।अतः इस दिन महिलाएं पीले और सफेद फूलों से पीले वस्त्र धारण कर पूजा-अर्चना करती हैं।बसंत पंचमी के दिन मदनोत्सव और पतंगोत्सव भी मनाया जाता है।इस दिन गुजरात, लखनऊ और अन्य शहरों में महिलाएं पीले वस्त्र धारण कर पतंगबाजी का आनन्द उठाती हैं।
4-5 वर्ष के बच्चों को आज के ही दिन से विद्या रम्भ करवाई जाती है।विद्या और सार देने वाली देवी को माँ शारदे भी कहा जाता है।देवी शारदा का आदि मंदिर एम.पी.में सतना के पास मैहर में है।बसंत पंचमी को होली सिरीज का प्रथम पर्व माना जाता है।इसी दिन होली का ढ़ाव(प्रहलाद का प्रतीक स्वरूप)गाड़ा जाता है।और इस ऋतुराज में बसंती हवा का प्रवाह बढ़ जाता है।वृक्ष भी नये परिधान धारण कर प्रकृति का स्वागत  करते हैं।जड़-चेतन सबमें कामदेव का अदृश्य संचार होता है। कुम्भ प्रयागराज 2019 का इस दिन तीसरा और आखिरी शाही स्नान होता है।पहले शाही स्नान मकर संक्रांति पर लगभग सवा दो करोड़ लोगों ने कुम्भ स्…