Skip to main content

Posts

Showing posts from February, 2019

उल्टा चोर कोतवाल को ड़ाटे

helpsir.blogspot.com आदरणीय सम्पादक जी
                                  सादर प्रणाम            इस समय भारत और पाकिस्तान के बीच में गतिरोध जारी है।पुलवामा हमले में 43 जवानों की शहादत के बाद से भारत में शोक और आक्रोश की लहर व्याप्त है।भारत नें देश और दुनिया के लिए घातक आतंकी संगठन"जैश-ए-मोहम्मद"के पी.ओ.के. स्थित बालाकोट के आश्रय स्थल एवं आतंकी शिविर को तहस-नहस कर दिया।इसके जबाब में पाकिस्तान ने जेनेवा संधि का उल्लंघन करते हुए कल दि०26-02-2019 को एल.ओ.सी.पार करनें का दुस्साहस किया।सजग भारतीय वायु सेना नें एफ.16 युद्धक विमान को मार गिराया और पाकिस्तान की हमले की कार्यवाही को विफल कर दिया।इस हमले में भारत को भी अपने एक मिग विमान तथा बहादुर वायु सैनिक"अभिनन्दन"को खोना पड़ा।अभिनन्दन की सुरक्षित रिहाई के लिए भारत नें जेनेवा संधि के उल्लंघन के अनुसार रिहाई की कोशिसें तेज कर दी है।पुलवामा हमले के बाद शेष विश्व के देशों ने पाकिस्तान पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है।जल्दबाजी में पाकिस्तान द्वारा उठाए गए कदमों की चहुंओर निन्दा हो रही है।             पाकिस्तान को ईमानदारी से अपने …

मोदी की एक और बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक

आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम।आज रात समय लगभग 3:30 A.M.पर भारतीय सेनाओं ने पी.ओ.के.में एक और बड़ी सैनिक कार्यवाही करते हुए पाकिस्तान के आतंकी, ट्रेनर,सैनिकों सहित लगभग 300 से अधिक को बमों के हमले में मौत के घाट उतारकर पुलवामा हमले का बदला चुकता कर दिया है। "56 इंच के सीने वाले प्रधानमंत्री " श्री नरेन्द्र मोदी और मोदी सरकार ने यह साबित कर दिया है कि जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।ऐसी सैनिक कार्यवाही करके देश के लोगों को होली से पहले दीवाली का तोहफा दे दिया है।देश में फैली पुलवामा हमले की शोक की लहर को खुशी में बदल दिया है।जैश का सबसे बड़ा ट्रेनिंग कैम्प तबाह कर दिया है।लगभग दस गुना लोगों को मौत के घाट उतार कर साहस,धैर्य, वीरता और बदला की न्यायोचित कार्रवाई करके देश की जनता की मुँहमाँगी मुराद पूरी करके दिल जीत लिया है।दूसरी तरफ पाकिस्तान की तरफदारी करने वाले चीन की सामानों की होली जलाने की देश के व्यापारियों नें चीनी सामान आयात न करने के फैसले से चीन की भी खतरे की घंटी बजा दी है।और पेइचिंग की भी रातों की नींद उड़ा दी है।चीन के भी सुर अब बदले नजर आयेंगे।भारत की कूटनीति से पा…

विश्व स्तरीय प्रशिक्षण प्राप्त भारतीय सेनाएं और अर्ध सैनिक बल

helpsir.blogspot.com
आदरणीय सम्पादक जी
                             सादर प्रणाम।        भारतीय सेनाओं और अर्धसैनिक बलों को विश्व स्तरीय उच्च प्रशिक्षण दिया जाता है।कठिन ट्रेनिंग के दौर से गुजरना पड़ता है।विश्व के अन्य देशों की सेनाओं के अफसरों को भी भारत में प्रशिक्षित किया जाता है।हमारी सेनाओं को प्रशिक्षण के दृष्टिकोण से विश्व स्तरीय रैंकिंग भी प्राप्त है।हमारी सेनाओं की क्षमताओं और कार्यकुशलता का लोहा पूरे विश्व में माना जाता है।भारतीय सेनाओं को आधुनिक तकनीक और स्वचालित असलहों से लैश किया जा रहा है।विषम परिस्थितियों में भी कार्य करने का प्रशिक्षण भी दिया जाता है।दुरूह मौसम से भी सामंजस्य बिठाने का प्रशिक्षण दिया जाता है।        भारत पाकिस्तान और चीन प्रायोजित आतंकवाद से विगत कई दशकों से पीड़ित है।पाकिस्तान में जान देकर भी भारत का नुकसान पहुंचाने वाले जेहादियों की कोई कमी नहीं है।और चीन में असलहा गोला बारूद की कोई कमी नहीं है।चीनी राइफल्स ए.के.47,ए.के.56 का बड़ा खरीददार पाकिस्तान अन्य मदों का धन भी भारत की बर्बादी हेतु असलहा,गोला,बारूद जेहादियों हेतु खरीदता ही रहता है।जेहादियों को सैन्…

मोदी ने देश का सम्मान बढाया

helpsir.blogspot.com
आदरणीय सम्पादक जी
                          सादर प्रणाम।         सोल में शान्ति का अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार जीत कर इस पुरस्कार को जीतने का नरेन्द्र मोदी ने पहले भारतीय होने का रिकॉर्ड बनाया।और संयुक्त राष्ट्र संघ के पर्यावरण के क्षेत्र का चैम्पियन आफ द अर्थ पुरस्कार विजेता के रूप में चार चाँद लगा दिया।निःसंदेह नरेन्द्र मोदी ने भारत को सातवें आसमान पर पहुँचा दिया है।नरेन्द्र मोदी ने विश्व स्तर पर भारत को मान,सम्मान और तिरंगे की शान को बढ़ाया है।अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत की साख में बढ़ोत्तरी की है।इसके लिए नरेन्द्र मोदी और मोदी सरकार अवश्य ही बधाई की पात्र है।इसकी जितनी प्रशंसा की जाय कम है।नरेन्द्र मोदी ने अपने साथ-साथ भारत के कद को भी बढ़ाया है।इस वर्ष नरेन्द्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र संघ का पर्यावरण के क्षेत्र का प्रतिष्ठित पुरस्कार"चैम्पियन आफ द अर्थ"पुरस्कार और सोल शान्ति का प्रतिष्ठित पुरस्कार जीत कर भारत और अपना मान-शान और सम्मान बढ़ाया है।अब भारत का नाम से लिया जाता है।नरेन्द्र मोदी का व्यक्तित्व के जादू का जलवा बिखेरते हुए अपने दोस्ताना सम्बंधों के …

देश की तरक्की मे युवाओं का योगदान

helpsir.blogspot.com
आदरणीय सम्पादक जी                                सादर प्रणाम।किसी भी देश के चहुमुखी विकास में उस देश के युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।राष्ट्र की उन्नति की गाड़ी में युवा पहियों की भूमिका में होते हैं।देश तोप,तलवार, असलहा,बारूद,मिसाइल, टैन्कों से मजबूत और ताकतवर नहीं होता है।बल्कि उस देश के नौजवान और युवा कितने मजबूत और ताकतवर हैं देश की मजबूती इस बात पर निर्भर होती है।इस समय पूरी दुनिया में भारत युवाओं के प्रतिशत में सम्भवतः सबसे आगे है।भारत में इस समय युवाओं का प्रतिशत 65% है।इस समय 65 % युवाओं वाला देश भारत दुनिया का अग्रणी देश है।चीन में बूढ़ों की संख्या सबसे ज्यादा है।जहाँ युवाओं का प्रतिशत केवल 31 %है।वहाँ की राष्ट्रीय राजनीति सबसे ज्यादा इसी बात से चिंतित है।वहाँ जनसंख्या पालिसी में इसी चिंता के कारण बदलाव किया गया है।एक की जगह दो बच्चे पैदा करने की अनुमति दी गई है।तीसरे बच्चे का जन्म भी 6 लाख जुर्माने के साथ पैदा करने की अनुमति है।इसके सापेक्ष भारत में युवाओं का प्रतिशत 65% है। भारत में के युवाओं और प्रत्येक भारतीय में देशभक्ति और राष्ट्र प्रेम कूट-कूट क…

गाय और आयुर्वेद

helpsir.blogspot.in आदरणीय सम्पादक जी
                               सादर प्रणाम। किसी भी आयुर्वेदिक दवा में यदि अनुपान के रूप में दूध का जिक्र है तो निश्चित रूप से समझ लेना चाहिए कि दूध केवल और केवल देशी गाय का दूध ही बताया गया है।देशी गाय भी वह जो चरने जाती है।बाँधकर खिलाने वाली देशी ही गाय के दूध में वह औषधीय गुण नहीं होते हैं जो चरने वाली गाय के दूध में पाये जाते हैं।तरह-तरह की औषधीय गुणों से भरपूर वनस्पति घास के चरने के बाद दूध देने वाली गाय के दूध में भरपूर औषधीय गुण पाए जाते हैं।यदि कोई भस्म बनाने की बात आयुर्वेद में लिखी है तो गाय के गोबर से ही भस्म बनाने का निर्देश दिया गया है।एक कहावत है कि" गाय से गवा को।भैंस से भवा को।"राजाओं के यहाँ चारा-पानी की क्या कमी थी? फिर भी कृष्ण जी गायों को चराने जाते थे और "गोपाल"कहलाए।एक लाख गाएँ नन्द बाबा के यहाँ थी।सवा लाख गाएँ बरसाने की राधा रानी के पिता वृषभानु के यहाँ थीं।अब गोपाल के देश हिन्दुस्तान में गायों की जो दुर्दशा है वह किसी से छिपी नहीं है।बहुत सी आयुर्वेदिक दवाओं में अनुपान के रूप में देशी गाय के दूध का उल्ले…

शहीदों की विधवाओं को अति विशिष्ट सम्मान मिले

helpsir.blogspot.in आदरणीय सम्पादक जी                                 सादर प्रणाम।           शहीद एक अतिपावन शब्द है।देश की आन-बान-शान के लिए हंसते-हंसते प्राणों की बाजी लगा देने वाले रण-बांकुरे को शहीद का दर्जा प्राप्त होता है।अदम्य साहस,बहादुरी, रण कौशल के प्रवीण योद्धा को शहीद का दर्जा प्राप्त होता है।          शहीद की विधवा और परिवार के साथ सारा देश खड़ा है।हर आँख नम है।युवा उद्वेलित हैं।सारे देश में गम और गुस्से का माहौल है।पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लग रहे हैं।स्थिति विस्फोटक है।अमेरिका और इंंग्लैण्ड में शहीद की विधवाओं को स्पेशल बैज दिया जाता है।जिसके कारण जब वह घर के बाहर निकलती हैं तो जो भी रास्ते में मिलता है विशेष आदर की मुद्रा में सिर झुकाकर अभिवादन, सम्मान प्रकट करनें की सम्मानित प्रथा है।बसों,रेलों में सभी लोग सीट छोंड़ कर सम्मान में सीट छोंड़कर खड़े हो जाते हैं। मेरे भारत महान में भी ऐसी ही कोई विशेष अलंकरण या कोई विशेष पहचान चिन्ह प्रदान किया जाना चाहिए।ताकि दूर से पहचान की जा सके कि अमुक महिला शहीद की विधवा है।जिस पर हम गर्व कर सकें।ऐसी गौरवशाली परम्परा सरकार द्वारा शुरू…

जवानों की शहादत से पूरे देश मे आक्रोश

helpsir.blogspot.in आदरणीय सम्पादक जी                                सादर प्रणाम          पाकिस्तान के कायराना, बुजदिलाना पूर्ण हमले से पूरे भारत देश में जबरदस्त शोक और आक्रोश की लहर है।पूरा देश गम-ओ-ताजियत की चादर ओढ़े है।हर तरफ, हर कूचे,हर गली में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लग रहे हैं।उड़ी हमलों से यह बड़ा हमला है।अब समय आ गया है पाकिस्तान के आतंकी प्रशिक्षण शिविर, आतंक की फैक्ट्री, सुरक्षित पनाहगाहें एक साथ नष्ट कर दिए जाने चाहिए ताकि भविष्य में बार-बार इस तरह के होने वाले हमलों पर पूर्ण विराम लग सके।पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले भाइयों को पाकिस्तान के जुल्म-सितम तथा गुलाम कश्मीर के कलंक से मुक्त कराकर भारत सरकार के माथे पर लगा कलंक जो 1948 से लगातार अवैध कब्जा का काला धब्बा धोने की जरूरत है।जब भारत सरकार तथा हर भारतीयों, विदेशों तक सर्व विदित है कि हमारे कश्मीर के भारतीय बिचारे कितने सालों से गुलाम बनकर पाकिस्तान के जुल्मों-सितम सह रहे हैं।और पशुवत जिन्दगी गुजार रहे हैं।हम हमलावर देशों में नहीं हैं।लेकिन अपनी जमीन, अपने नागरिकों को दासता-गुलामी से मुक्त कराना हमला नहीं है।सर्जिकल स्ट…

आय प्रमाण पत्र मे खेल

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी                                  सादर प्रणाम अभी हाल ही में लेखपाल द्वारा कम आय का प्रमाण पत्र जारी करने सम्बंधित समाचार प्रमुखता से प्रकाशित किया है।लेखपाल रिपोर्ट लगाने में किसी भी मानक का प्रयोग नहीं करते हैं।मनमाने ढंग से प्रधान से पूँछ कर प्रधान और उनके चहेतों को आय प्रमाण पत्र, भूमि पट्टा, प्रधानमंत्री आवास ,शौचालय जैसी सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करने में मनमानी रिपोर्ट लगवाकर लाभ प्राप्त करने में अग्रणी रहते हैं।कुछ प्राथमिक शिक्षक नेता सेवानिवृत्त होने के बाद चुनाव लड़कर,सेवानिवृत्त की रकम प्रधानी चुनाव में बांटकर,चुनाव जीतकर प्रधानी उद्योग में लग जाते हैं।और अपनी पुरानी कमाई की आदत से बाज नहीं आते हैं।अपने और अपने चहेतों की व्यक्तिगत रिहाइशगाह तक सरकारी धन से सफेद ईंट का खड़ंजा लगवा लेते हैं।लेखपाल जी कभी गाँवों में आते ही नहीं हैं।गाँवों में मिनी सचिवालय के ताले केवल साल में दो बार खुली बैठक के समय ही खुलते हैं।सेवानिवृत्त शिक्षक पेंशन धारक होने बावजूद पद और रसूख के चलते अपनी आय 24000 हजार वार्षिक बनवाने में सफल हो जाते हैं।सरकारी नियम है कि प्रध…

पाकिस्तान का फिर एक कायराना हमला

आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम।हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को अपनी राष्ट्रीय राजनीति में आवश्यक हिस्सा के रूप में अपनाते हैं।आतंकवाद का पोषण,संरक्षण और प्रशिक्षण करने का इतिहास रहा है।कल दि० 14-02-2019 को पाकिस्तान ने फिर जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सी.आर.पी.एफ की बस पर एक भीषण कायराना हमला किया है।हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान पोषित जैश-ए.मोहम्मद ने ली है।इस हमले में 43 जवान शहीद हुए हैं।मसूद अजहर के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने भारत को पूर्व में भी काफी नुकसान पहुंचाया है।विश्व के लगभग सभी देशों ने इस कायराना हमले की निन्दा की है।शहीदों की शहादत बरबाद नहीं जाएगी।इस कायराना पूर्ण हमले का उचित बदला लिया जाएगा।भारतीय जवान चुप नहीं बैठेंगे अपने बहादुर साथियों की शहादत बेकार नहीं जानें देंगे।बदला अवश्य लिया जाएगा।इस कायरता पूर्ण हमले की जितनी भी निन्दा की जाय कम है।अब समय आ गया है भारत सरकार को चाहिए कि पी.ओ.के.से पाकिस्तान के समर्थक सैनिकों और आतंकी शिविरों को नष्ट करके गुलाम कश्मीर को आजाद कराकर भारत में मिलाकर पाकिस्तान का अवैध कब्जा समाप्त करने की कृपा करें।प्रमोद कुमार द…

आटोमेटिक राइफल्स फैक्ट्री का भारत मे न होना

gsirg.com आदरणीय सम्पादकजी                                   सादर प्रणाम             आज हमारा देश भारत मिसाइल टेक्नोलॉजी, तथा अंतरिक्ष विज्ञान में तथा जलपोत क्षेत्र में एक से बढ़कर एक ऊँचे सोपानों पर विराजमान हो रहा है।भारतीय सेनाओं जल, थल,वायु तीनों सेनाओं की रक्षा जरूरतों तथा उपकरणों की के हिसाब से आयुध कारखाने और उन्नत टेक्नोलॉजी तथा,डिजाइन के अभाव के कारण ही हम अपनी तीनों सेनाओं के रक्षा उपकरण और साजो-सामान की खरीद विदेशों से करने के लिए मजबूर हैं।तीनों सेनाओं की जरूरत के लिए हल्के हेलीकॉप्टर भी हम भारत में जरूरत के हिसाब से निर्माण नहीं कर पा रहे हैं।एविएशन क्षेत्र में H.A.L.के अलावा कोई भी बड़ा नाम नहीं है।आजादी के 70 साल बीत जाने के बाद भी तीनों सेनाओं के जरूरत में काम आने वाली राईफल बनाने का कोई भी कारखाना न होने के कारण हम अमेरिका से 72000 के लगभग राईफलें खरीदने को मजबूर हैं।सन् 1990 में ही पहचान कर ली गई थी कि आतंकवादियों की तुलना में सेना की राइफलें अपेक्षाकृत कम उन्नत तकनीक की हैं।फिर भी आज तक की सरकारों ने कोई खरीद न की थी।अब जब मोदी सरकार ने यह समझदारी भरी उत्तम खरीद की है…

चुनाव पूर्व सतर्कता

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी                                 सादर प्रणाम
        भारत के दो चिर-परिचित शत्रु हैं।नं.1 चीन,नं.2 पाकिस्तान।यह दोनों शत्रु ऐन-केन-प्रकारेण भारत की बर्बादी के सपने देखते ही रहते हैं।पाकिस्तान ने पी.ओ.के.पर अवैध कब्जा सन् 1948 ई०से जमाए हुए हैं और जम्मू कश्मीर हड़पने के ख्वाब देखा करता है।चीन भी हजारों हेक्टेयर भूमि पर अवैध कब्जा करने के उपरांत अरुणांचल प्रदेश पर अवैध रूप से दावा प्रस्तुत करता ही रहता है।आए दिन डोकलाम राग अलापता ही रहता है।पाकिस्तान अनगिनत बार सीज फायर का उलंघन कर चुका है और यह मुहिम लगातार जारी है।दोनों देश चीन तथा पाकिस्तान भारत के विरुद्ध साजिश दर साजिश रचता ही रहता है।"मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है?वहीं होता है जो मंजूर-ए-खुदा होता है। भारत में लोकसभा चुनाव सिर पर हैं।ऐसे में विपक्षी पार्टियों के धन और शराब वितरण पर कड़ाई से नजर रखे जाने की खास जरूरत है।अभी यू.पी.का जहरीली शराब काण्ड अभी ठंडा भी नहीं हुआ है।यू.पी.और उत्तराखंड में लगभग सौ से अधिक लोगों नें अपनी जानें गंवाई हैं।पाकिस्तान अक्सर लोकसभा चुनाव बिगाड़ने के उद्देश्य से स…

कलंकित दोस्ती

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी                                सादर प्रणाम
अपने भारत देश में दोस्ती के सिर कटा देने वाले दोस्तों की मिशालें भरी पड़ी हैं।शोले फिल्म की जय-बीरू की जोड़ी ऐसी दोस्ती की मिशाल पेश की गई है।आल्हा खण्ड में लाखन कुँवर कनौजी राय और ऊदल की दोस्ती का प्रमाण प्रमुखता से लिखा गया है।लाखन और ऊदल नें गंगा में दोस्ती निभाने की शपथ ली थी और निभाई भी।कर्ण और दुर्योधन की दोस्ती कलयुग में कृष्ण और अर्जुन की दोस्ती त्रेता युग में राम और सुग्रीव की मित्रता सतयुग में अग्नि देव और इन्द्र देव की मित्रता के प्रमाण मिलते हैं।मित्रता खून के रिश्ते से बड़ी होती है क्योंकि यह दिल के रिश्ते से जुड़ी होती है।
आजकल मित्रता के पैमाने और मापदण्ड ही बदल गए हैं।अब लोग मित्रता लालच और स्वार्थ के कारण करते हैं।अब "यार ने ही लूट लिया घर यार का।"की तर्ज पर दोस्ती करते हैं।दोस्त की पत्नी पर ही बुरी नजर रखते हैं।दोस्ती में कत्ल के समाचार कामुक दोस्ती कलंकित दोस्ती बन कर रह जाती है।ऐसी गलत दोस्ती की घटनाएं ही कत्ल अथवा जरायम की दुनिया की जन्मदात्री होती है।अब आजकल की दोस्ती की दास्तानें समाचार…

कलंकित दोस्ती

आदरणीय सम्पादक जी                               सादर प्रणाम।
         अपने भारत देश में दोस्ती के लिए सिर कटा देने वाले दोस्तों की मिशालें भरी पड़ी हैं।शोले फिल्म की जय-बीरू की जोड़ी ऐसी ही दोस्ती की मिशाल पेश करती है।आल्हा खण्ड में लाखन कुँवर कनौजी राय और ऊदल की दोस्ती का प्रमाण प्रमुखता से लिखा गया है।लाखन और ऊदल नें गंगा में दोस्ती निभाने की शपथ ली थी और निभाई भी।कर्ण और दुर्योधन की दोस्ती कलयुग में कृष्ण और अर्जुन की दोस्ती त्रेता युग में राम और सुग्रीव की मित्रता सतयुग में अग्नि देव और इन्द्र देव की मित्रता के प्रमाण मिलते हैं।मित्रता खून के रिश्ते से बड़ी होती है क्योंकि यह दिल के रिश्ते से जुड़ी होती है।आजकल मित्रता के पैमाने और मापदण्ड ही बदल गए हैं।अब लोग मित्रता लालच और स्वार्थ के कारण करते हैं।अब "यार ने ही लूट लिया घर यार का।"की तर्ज पर दोस्ती करते हैं।दोस्त की पत्नी पर ही बुरी नजर रखते हैं।दोस्ती में कत्ल के समाचार कामुक दोस्ती कलंकित दोस्ती बन कर रह जाती है।ऐसी गलत दोस्ती की घटनाएं ही कत्ल अथवा जरायम की दुनिया की जन्मदात्री होती है।अब आजकल की दोस्ती की दास्तानें समा…

अबूधाबी ने हिन्दी का सम्मान बढाया

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी
सादर प्रणाम। संयुक्त अरब अमीरात में लगभग 33 लाख भारतीय कामगार रहते हैं।अरब देशों की भारत से मित्रता सदियों पुरानी है।आज दि०10-02-2019 को अबूधाबी में सरकार ने कानूनी भाषा के तौर पर अरबी,अंग्रेजी के बाद हिन्दी को मान्यता दे दी है।जिससे 33 लाख कामगारों की कानूनी समस्या काफी हद तक हल हो जाएगी।हिन्दी को सम्मान देने के लिए संयुक्त अरब अमीरात सरकार को बधाई, शुभकामनाएं।मोदी सरकार ने दोस्ताना सम्बन्धों को यू.आई.ए से प्रगाढ़ और मधुर बनाकर नई ऊँचाइयों को छुआ है।हिन्दी की ख्याति विदेशों में लगातार बढ़ रही है।हिन्दी के प्रचार प्रसार की दिशा में व्यापक सुधारों की आवश्यकता है। अपने देश भारत में ही हिन्दी को उचित सम्मान नहीं प्राप्त अपितु विदेशों में भी उचित सम्मान प्राप्त हो रहा है।इसके लिए हम उन देशों के आभारी हैं,जिन देशों ने हिन्दी को सम्मान दिया है।यह हमारे लिए गर्व की बात है कि मुस्लिम देशों ने भी हमारी दोस्ती समारा गौरव हिन्दी को उचित सम्मान देकर अरबी भाषा, अंग्रेजी भाषा के बाद अब तीसरी हिन्दी भाषा को अपने देश की विधिक भाषा के रूप में मान्यता दी है।

ऋतुराज बसंत और दिव्य, भव्य कुम्भ प्रयागराज

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम। आज दि० 10-02-2019 को ऋतुराज बसंत है।इस दिन विद्या और ज्ञान की देवी माँ सरस्वती की जयन्ती होती है।माता सरस्वती जी को पीला और सफेद रंग बहुत ज्यादा पसंद है।अतः इस दिन महिलाएं पीले और सफेद फूलों से पीले वस्त्र धारण कर पूजा-अर्चना करती हैं।बसंत पंचमी के दिन मदनोत्सव और पतंगोत्सव भी मनाया जाता है।इस दिन गुजरात, लखनऊ और अन्य शहरों में महिलाएं पीले वस्त्र धारण कर पतंगबाजी का आनन्द उठाती हैं।
4-5 वर्ष के बच्चों को आज के ही दिन से विद्या रम्भ करवाई जाती है।विद्या और सार देने वाली देवी को माँ शारदे भी कहा जाता है।देवी शारदा का आदि मंदिर एम.पी.में सतना के पास मैहर में है।बसंत पंचमी को होली सिरीज का प्रथम पर्व माना जाता है।इसी दिन होली का ढ़ाव(प्रहलाद का प्रतीक स्वरूप)गाड़ा जाता है।और इस ऋतुराज में बसंती हवा का प्रवाह बढ़ जाता है।वृक्ष भी नये परिधान धारण कर प्रकृति का स्वागत  करते हैं।जड़-चेतन सबमें कामदेव का अदृश्य संचार होता है। कुम्भ प्रयागराज 2019 का इस दिन तीसरा और आखिरी शाही स्नान होता है।पहले शाही स्नान मकर संक्रांति पर लगभग सवा दो करोड़ लोगों ने कुम्भ स्…

जहरीली शराब का कहर

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी                               सादर प्रणाम जहरीली शराब का उत्पादन, वितरण और सरकार के समांतर शराब की विक्री का स्ट्रक्चर खड़ा करने के लिए शराब माफिया गिरोहों द्वारा समय -समय पर अन्तरराज्यीय संगठन खड़ा करने का प्रयास किया जाता रहा है। पोन्टी चड्ढा जैसे शराब माफियाओं के पास ऐसे-ऐसे विकट कारनामे करने के लिए पर्याप्त धन,गैंग और दिमाग हुआ करता था।शराब माफिया न कभी कम थे न होंगे।दि० 08-02-2019 को जहरीली शराब के सेवन से यू.पी.और उत्तराखंड में 42 लोगों के मरने का समाचार प्राप्त हुआ है।बिना पुलिस की मिलीभगत के इतने बड़े पैमाने पर शराब बिक्री और शराब उत्पादन सम्भव ही नहीं है।ऐसे शराब काण्ड होने पर सरकार कुछ आबकारी विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों के निलंबन और सम्बंधित पुलिस थाने के सिपाहियों/दरोगाओं के निलंबन की कार्यवाही करने के सिवा कुछ नहीं करती है।शराब सिंडिकेट को खत्म करने की दिशा में कोई भी प्रयास नहीं किए जाते हैं।कुछ दिनों बाद फिर शराब माफिया डॉन पुनः नया ढ़ांचा विकसित कर लेते हैं।
सरकार से निवेदन है कि शराब माफियाओं के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने की कृपा करें।…

महागठबंधन बनाम राजग ( मोदी सरकार )

वआदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम।लोकसभा चुनाव 2019 का आगमन ऋतुराज बसंत के साथ ही साथ होने जा रहा है।कौरव पाण्डव दल की भाँति सभी दल मनपसंद रथी-सारथी की तलाश में गठबंधन रूपी गांंठें खोल बांंध रहे हैं।सभी अपनी ताकत बढ़ाने में जुटे हैं ताकि कुरुक्षेत्र में मजबूती से खम ठोंक सकें।कहावत है कि राजनीति में कोई दोस्ती या दुश्मनी स्थाई नहीं होती।कभी एक दूसरे को पानी पी कर कोसनें वाले सपा,बसपा एक दूसरे की गलबहियां डाले बुआ+बबुआ मोदी को कोस रहे हैं।कांग्रेस से ही प्रस्फुटित टी.एम.सी.की ममता दीदी विदेशी नागरिकता के मुद्दे पर श्रीमती सोनिया गांधी जी से अलग होकर टी.एम.सी.बनाई थी।आज पक्के साथी बनकर कदमताल कर रही हैं।कभी दिल्ली वाले केजरीवाल जी राबर्ट बाड्रा के डी.एल.एफ.सौदे के सबूत अपनी जेब में रखकर बड़े गर्व से कहते थे कि कोई माई का लाल राबर्ट बाड्रा की जाँच नहीं करवा सकता।अब जब राबर्ट बाड्रा के खिलाफ जाँच शुरू हुई तो केजरीवाल जी उसी कांग्रेस से गठबंधन की फिराक में हैं।सभी दलों के हिट प्वाइंट पर केवल और केवल मोदीजी ही हैं।देश को घोटालों की सरकार देने वाली कांग्रेस भी अब राफेल पर घोटाला मण्डित होने का आ…

बंगाल और बंगाल की दीदी

gsirg.com आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम। हिटलरशाही और तानाशाही दोनों शब्द इस समय बंगाल और बंगाल की दीदी "ममता बनर्जी"पर बिल्कुल फिट बैठते हैं।अखबार की सुर्खियों में रहना दीदी जी को कुछ ज्यादा ही रास आ रहा है।वहाँ लोकतंत्र और विधिक शासन खतरे में है।जैसे हिटलर के मुँह से निकले शब्द कानून बन जाते थे।उसी प्रकार दीदी"ममता बनर्जी इस समय कानून ही बोलती हैं।चाहे भा.ज.पा.कार्यकर्ताओं की हत्या हो चाहे पंचायत चुनावों में हिंसा हो दीदी और बंगाल का ग्राफ ऊपर ही रहता है। जम्मूकश्मीर भी पंचायत चुनावों में हिंसा के मामले में पिछड़ता नजर आ रहा है।दीदी लोकतांत्रिक ढ़ांचे को मारना ही चाहती हैं।बंगाल में शीर्ष संस्था सी.बी.आई.के दल को भी हिरासत में ले लेती हैं।अथवा हिरासत के आदेश जारी कर देती हैं।जिससे लोकतंत्र खतरे में पड़ जाता है।उ.प्र.के मुख्यमंत्री श्री आदित्यनाथ योगी का विमान नहीं उतरने देती हैं।कहती हैं लोकतंत्र खतरे में पड़ जाएगा।दुर्गा पूजा के पण्डालों से लोकतंत्र खतरे मे पड़ जाएगा।अमितशाह की रैली से लोकतंत्र खतरे में पड़ जाएगा।बिना हाईकोर्ट अथवा सुप्रीम कोर्ट के दखल के दीदी कोई भी कार्य…

दूसरा शाही स्नान मौनी अमावस्या,सोमवती अमावस्या प्रयागराज कुम्भ 2019

आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम। आज यानि 04-02-2019 श्रद्धा और आस्था की डुबकी संगम तट कुम्भ प्रयागराज 2019 मौनी अमावस्या, सोमवती अमावस्या पर दूसरा शाही स्नान है।लगभग 3 करोड़ लोगों के पवित्र डुबकी लगाने की उम्मीद है।ऐसा दुर्लभ योग कभी-कभी पड़ता है।कुम्भ में सोमवती अमावस्या का संयोग विरले ही हुआ करता है।एक महाभारत कालीन घटना है---वनवास के दौरान नैमिषारण्य मिश्रिख में पाण्डवों ने निवास स्थली बनाया।शास्त्रों के अनुसार सोमवती अमावस्या के दिन नैमिषारण्य मिश्रिख में भगवान विष्णु के चक्र का स्नान करने का विधान शुभ माना जाता है। 12 वर्ष तक लगातार सोमवती अमावस्या नहीं पड़ी।युधिष्ठिर सोमवती अमावस्या का चक्र स्नान करके पुण्य प्राप्त करना चाहते थे।परन्तु सोमवती अमावस्या नहीं पड़ी।युधिष्ठिर ने श्राप दे दिया कि कलयुग में रोज सोमवती अमावस्या पड़ेगी परन्तु कलियुग के प्रभाव से कोई भी ज्यादा महत्व नहीं देगा।आज युधिष्ठिर का श्राप सच साबित हो रहा है।अक्सर सोमवार को अमावस्या पड़ जाया करती है।जो द्वापर में 12 साल नहीं पड़ी थी। आज दि० 04-02-2019 को कुम्भ में ऐसा विरल संयोग पड़ा है।एक तो कुम्भ का पवित्र स्नान मौनी अमा…

लोक लुभावन, मन भावन आमबजट 2019

आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम।मोदी सरकार ने आम बजट 2019 पेश करके काफी स्याबासी वाला लोकलुभावन, मनभावन, सर्वजनसाधक बजट पेश किया है।इसे चुनावी बजट कहा जा रहा है।इस बजट से मोदी सरकार द्वारा हर वर्ग के मतदाताओं को साधने का काम किया है।सभी वर्गों में जय-जयकार हो रही है।किसानों की आमदनी दुगुनी करने के सरकार के प्रयासों को काफी बल मिला है।कुल मिलाकर यह बजट किसानों, मध्यमवर्गीय लोगों के लिए हितकारी बजट की संज्ञा दी जा रही है।इसमें सभी वर्गों को कुछ न कुछ खास देने का प्रयास किया गया है।कर्मचारियों को भी आय सीमा बढ़ाकर तोहफा देने की कोशिश की गई है।जानकार बताते हैं कि ऐसा बजट आज तक किसी सरकार द्वारा पेश नहीं किया गया है।ऐसा गुड ग्रीन बजट पेश करने के लिए मोदी सरकार अवश्य ही बधाई की हकदार है।लगभग सभी सत्ता पक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने मेजें थपथपाकर मोदी सरकार को शुभकामनाएं दी हैं।इस बजट में सभी के लिए कुछ न कुछ अवश्य है।अतः इस बजट से मोदी सरकार ने सभी वर्गों को साध कर बहुमत का बजट पेश करने की कोशिश की है।2019 में पुनः बहुमत की सरकार गठन की कोशिश में मास्टर स्ट्रोक मारने की कोशिश की है।प्रमोद कुमार…

कराहती, सिसकती मानवता / दम तोड़ती संवेदनाएं

आदरणीय सम्पादक जी सादर प्रणाम।कभी भारत में मानवीय मूल्यों,सम्वेदनाओं की अधिकता थी।लोग एक दूसरे के सुख-दुःख में एक साथ कन्धे से कन्धा मिलाकरकर खड़े नजर आते थे।पर अब मानव सम्वेदनाएँ दम तोड़ती नजर आ रहीं हैं।पृथ्वीराज चौहान के नानाशा को कुछ लोग प्राण घातक हमला करके मार देना चाहते थे।चौहान अजमेर से दिल्ली अपने नानाशा के यहाँ जा रहे थे।चौहान ने देखा युद्ध नियमों के विपरीत एक आदमी पर कई लोग प्रहार कर रहे थे।चौहान ने बिना देखे समझे केवल इस बात पर हमलावरों से भिड़ गए।कि युद्ध नियमों की अवहेलना हो रही थी।बाद में पता चला घायल होने वाले उनके नानाशा ही थे।नानाशा नें जान बचाने वाले पृथ्वीराज चौहान को दिल्ली का सुल्तान घोषित कर दिया।और राजतिलक की रस्म पूरी कर दी।ऐसी थी हमारे भारत देश की सम्वेदनाएँ।आज पुलिसिया उत्पीड़न के कारण और नैतिक मूल्यों के पतन के कारण ही शायद कोई झमेले में फंसना ही नहीं चाहता।सुप्रीम कोर्ट ने अब यह व्यवस्था दी है कि पुलिस मदद करने वाले व्यक्ति को किसी भी प्रकार से परेशान नहीं करेगी।फिर भी दम तोड़ती मानवता और नैतिक मूल्यों के पतन के कारण ही कोई भी मददगार सामने नहीं आता है।हाँ घायल…